Home राजस्थान समाचार मानसून के ग्रेट वेलकम के लिए बूंदी ने बिछाया ग्रीन कार्पेट, प्रदेश...

मानसून के ग्रेट वेलकम के लिए बूंदी ने बिछाया ग्रीन कार्पेट, प्रदेश की सबसे बड़ी टनल का खूबसूरत नजारा


  • 120 करोड़ रुपए में बनी है 1100 मीटर लंबी टनल, इससे बूंदी से कोटा की दूरी और समय भी घटा

दैनिक भास्कर

Jun 23, 2020, 08:18 PM IST

बूंदी. राजस्थान में छोटी काशी के नाम से प्रसिद्ध बंदूी जिला इन दिनों हरियाली की चादर ओढ़े हुए है। बूंदी से निकलने वाले नेशनल हाईवे 52 पर बनी टनल प्रदेश की सबसे बड़ी सुरंग है। पहाड़ों को छेदकर निकली टनल यूं तो आम दिनों में भी खूबसूरत लगती है पर जब बारिश में पहाड़ हरियाली से लकदक हो जाते हैं तो टनल की खूबसूरती में चार चांद लग जाते हैं। इस खूबसूरत नजारे को ड्रोन से कैमरे में कैद किया फोटो जर्नलिस्ट नितिन गौतम ने।  

एनएच-52 पर वर्ष 2015 में बनी यह टनल प्रदेश में सबसे बड़ी है।

बहुत जल्द बूंदी में भी मानसून का पदार्पण होने वाला है, लगता है मानो बूंदी की धरा ने मानसून के ग्रेट वेलकम के लिए ग्रीन कारपेट बिछा दिया हो। महीनेभर से रुक-रुककर हो रही बारिश ने इस बार बूंदी को तपने ही नहीं दिया तो हरियाली भी बाग-बाग हो उठी। हैंगिंग ब्रिज पड़ोसी जिले कोटा का तो यह ट्विन टनल बूंदी का गौरव है। इन्हें देखने के लिए सैलानी आते हैं। 

यह टनल 1100 मीटर लंबी है, 120 करोड़ की लागत से बनी है।
यह टनल 1100 मीटर लंबी है, 120 करोड़ की लागत से बनी है।

प्रदेश की सबसे बड़ी टनल है 

  • एनएच-52 पर वर्ष 2015 में बनी यह टनल प्रदेश में सबसे बड़ी है। बारिश में यह और भी आकर्षक लगती है।
  • यह टनल 1100 मीटर लंबी है, 120 करोड़ की लागत से बनी है।
  • टनल से जयपुर-कोटा की दूरी 6 किमी और सफर 20 मिनट घट गया।
  • प्रदेश का 27% जंगल बूंदी में हैं। यहां रामगढ़ विषधारी अभयारण्य है।
  • बूंदी में कभी सबसे ज्यादा बाघ थे और बूंदी देश में बाघों की जच्चास्थली के नाम से प्रसिद्ध था।  
    टनल से जयपुर-कोटा की दूरी 6 किमी और सफर 20 मिनट घट गया।
    टनल से बूंदी-कोटा की दूरी 6 किमी और सफर 20 मिनट घट गया।



Source link

ADMINhttps://currentnewsinhindi.com
I am a Content Writer, i am watching whole world current news then after publish in our news blog for our viewer with original source link.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

भारत ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का परीक्षण किया

सुखोई एमकेआई-30 विमान (फाइल फोटो).नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का...

विदेश सचिव ने फ्रांसीसी राजनयिक से मुलाकात की, सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर हुई चर्चा

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला.पेरिस: विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने शुक्रवार को फ्रांस की अंतरराष्ट्रीय संबंध और रणनीति महानिदेशक (डीजीआरआईएस) एलिस गुइटन के साथ...