Home राजस्थान समाचार मुख्यमंत्री ने रीको के 23 नए औद्यागिक क्षेत्रों की दी सौगात, बोले-...

मुख्यमंत्री ने रीको के 23 नए औद्यागिक क्षेत्रों की दी सौगात, बोले- सभी उपखंड स्तर पर विकसित हों औद्योगिक क्षेत्र


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Ashok Gehlot Update | Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot Foundation Stone Of 23 Industrial Areas

जयपुर21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने निवास से वीसी के माध्यम से शिलान्यास और लोकार्पण किया।

  • गहलोत ने उम्मीद जताई कि एक साथ 23 औद्योगिक क्षेत्रों के विकास से निवेशक यहां निवेश के लिए आकर्षित होंगे

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरूवार देर रात मुख्यमंत्री निवास से वीसी के माध्यम से रीको के 17 औद्योगिक क्षेत्रों का शिलान्यास एवं 6 औद्योगिक क्षेत्रों का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा लाई गई नई नीतियों एवं सुधारों से प्रदेश में निवेश के अनुकुल माहौल बना है, साथ ही निवेशकों में विश्वास पैदा हुआ है। उन्होंने कहा कि नए उद्यम लगने से रोजगार के अवसर पैदा होंगे और विकास के नये आयाम स्थापित होंगे। इन क्षेत्रों के विकास से प्रदेश में 4 हजार 22 करोड़ रुपए का निवेश आने की सम्भावना है। उन्होंने उम्मीद जताई कि एक साथ 23 औद्योगिक क्षेत्रों के विकास से निवेशक यहां निवेश के लिए आकर्षित होंगे।

सभी उपखंड स्तर पर विकसित हों औद्योगिक क्षेत्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी उपखंड स्तर पर रीको औद्योगिक क्षेत्र विकसित करें। जिससे अधिक उद्यमी यहां निवेश के लिए आएं। उन्होंने पिछड़े क्षेत्रों में सुविधाओं के विकास पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि प्रवासी राजस्थानियों के लिए अलग से औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की सम्भावनाएं तलाशी जाएं ताकि कोरोना संक्रमण के इस दौर में जिन प्रवासियों के उद्योग-धन्धे प्रभावित हुए हैं, उन्हें राहत दी जा सके। उन्होंने कहा कि प्रवासी राजस्थानियों का प्रदेश से अटूट रिश्ता है। ऐसे में, राज्य सरकार की जिम्मेदारी है कि उनकी परेशानियों को समझकर उन्हें दूर करने का प्रयास करें।

नए उद्यमियों को तीन साल किसी स्वीकृति की जरूरत नहीं

गहलोत ने कहा कि प्रदेश में उद्यमियों की सुविधा एवं निवेश की राह आसान करने के लिए नया एमएसएमई एक्ट लाया गया है। इसमें 3 साल तक उद्यमियों को किसी भी स्वीकृति की जरूरत नहीं होती है। इससे उद्यम लगाना आसान हो गया है। उन्होंने कहा कि नई औद्योगिक नीति में उद्यमियों को कई तरह की छूट दी गई हैं ताकि प्रदेश में निवेश बढ़ सके। उन्होंने कहा कि वन स्टॉप शॉप योजना, सिंगल विंडो एक्ट में सुधार के साथ ही राज्य सरकार द्वारा उठाए गए अन्य कदमों एवं नीतियों से प्रदेश में निवेश की राह आसान होगी, अर्थव्यवस्था में गति आएगी और साथ ही युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।

रीको के चेयरमेन कुलदीप रांका ने कहा कि प्रदेश में छोटे एवं मंझले उद्यमियों को निवेश के अनुकुल माहौल प्रदान करने के लिए पॉलिसी फ्रेमवर्क तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में 349 औद्योगिक क्षेत्र हैं, 23 नए औद्योगिक क्षेत्रों के आज जुड़ने के साथ अब इनकी संख्या 372 हो जाएगी।



Source link

ADMINhttps://currentnewsinhindi.com
I am a Content Writer, i am watching whole world current news then after publish in our news blog for our viewer with original source link.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

हरियाणवी सिंगर पर फायरिंग कर धमकी देने के आरोपी धत्तरवाला में डकैती की योजना बनाते पकड़े

झुंझुनूं21 मिनट पहलेकॉपी लिंकदतौली में मशहूर हरियाणवी सिंगर सुमित गोस्वामी पर फायरिंग करने के आरोपी जिले के धत्तरवाला गांव में डकैती की योजना...

भारत ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का परीक्षण किया

सुखोई एमकेआई-30 विमान (फाइल फोटो).नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का...