Home देश समाचार हम भारत को आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस के केंद्र के रूप में देखना चाहते...

हम भारत को आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस के केंद्र के रूप में देखना चाहते हैं : पीएम मोदी


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि कृत्रिम मेधा (आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस) की कृषि, शहरी बुनियादी अधोसंरचना और आपदा प्रबंधन के तंत्र को और मजबूत करने में बहुत बड़ी भूमिका है लेकिन साथ ही सरकार से इतर पक्षों द्वारा इसके शस्त्रीकरण के खिलाफ विश्व को सुरक्षित रखना भी सुनिश्चित करना होगा. पीएम मोदी ने सोमवार को कृत्रिम मेधा (एआई) पर पांच दिवसीय वैश्विक डिजिटल शिखर सम्मेलन ‘‘रिस्पांसिबल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फॉर सोशल एम्पावरमेंट” (आरएआईएसई-2020) के उद्घाटन के अवसर पर यह बातें कहीं.

इसका आयोजन सरकार द्वारा उद्योग और शिक्षा के साथ साझेदारी में किया जा रहा है. इसका लक्ष्य स्वास्थ्य, शिक्षा और कृषि क्षेत्रों में परिवर्तन करना है. उन्होंने अपने संबोधन में कहा, ‘‘मैं एआई की कृषि, शहरी बुनियादी अधोसंरचना और आपदा प्रबंधन के तंत्र को और मजबूत करने में बहुत बड़ी भूमिका देखता हूं.” उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा तकनीकी मंच बनाया जा रहा है जो ई-शिक्षा इकाई का निर्माण करेगा ताकि डिजिटल अधोसंरचना, डिजिटल विषय-वस्तु और क्षमता को मजबूत करेगा. उन्होंने कहा, ‘‘यह हमारी सामूहिक जिम्मेदारी बनती है कि कैसे एआई का इस्तेमाल होता है.

‘रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनेगा भारत’, अटल सुरंग के उद्घाटन के दौरान PM मोदी के भाषण की खास बातें

गणित के सवालों को हल करने के नियमों की प्रणाली (एल्गोरिदम) की पारदर्शिता इस विश्वास को स्थापित करने की कुंजी है. हमें ‘नॉन स्टेट एक्टर्स’ द्वारा इसके शस्त्रीकरण के खिलाफ विश्व को सुरक्षित रखना भी सुनिश्चित करना होगा.” प्रधानमंत्री ने कहा कि मानव जाति के साथ एआई का टीम वर्क पृथ्वी के लिए विस्मित करने वाले परिणाम दे सकता है. उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत को एआई के केंद्र के रूप में देखना चाहते हैं. कई भारतीय इस दिशा में काम भी कर रहे हैं. मैं उम्मीद करता हूं कि आने वाले दिनों में बहुत सारे लोग इससे जुड़ेंगे.”

VIDEO:PM नरेंद्र मोदी ने किया ‘अटल टनल’ का उद्घाटन

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

ADMINhttps://currentnewsinhindi.com
I am a Content Writer, i am watching whole world current news then after publish in our news blog for our viewer with original source link.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

भारत ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का परीक्षण किया

सुखोई एमकेआई-30 विमान (फाइल फोटो).नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के लड़ाकू विमान से दागे जा सकने वाले प्रारूप का...

विदेश सचिव ने फ्रांसीसी राजनयिक से मुलाकात की, सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर हुई चर्चा

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला.पेरिस: विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने शुक्रवार को फ्रांस की अंतरराष्ट्रीय संबंध और रणनीति महानिदेशक (डीजीआरआईएस) एलिस गुइटन के साथ...